Department of Hindi

  • Faculty Members
  • Programs offered
  • Department Activities

नाम: डॉ. रेखा गुप्ता,

शैक्षणिक योग्यता: एम. ए.पीएच. डी.,

अध्यापन अनुभव- 28 वर्ष

Read more

 

 

नाम: डॉ. शीताभ शर्मा 

शैक्षणिक योग्यता: एम.ए., एम. फिल्, पीएच.डी., नेट, सेट, (सभी पात्रता हिन्दी विषय में उत्तीर्ण) बी.जे.एम.सी., बी.एड.।

अध्यापन: अनुभव-16 वर्ष

Read more
 

 

 

नाम: डॉ धर्मा यादव

शैक्षणिक योग्यता: एम ए.,एम फिल, नेट, पीएच डी (हिन्दी साहित्य), बी पी एड (शारीरिक शिक्षा), डी वाई एड (योग शिक्षा)।

Read more
 

 

स्नातक कार्यक्रम:

बीए

स्नातक पाठ्यक्रम उपादेयता

आदिकालीन- भक्तिकालीन कविता अपनी भाषा- उप भाषाओं व मूल्यों की दृष्टि से महत्वपूर्ण है।

  • आदिकालीन काव्य पठन से डिंगल-पिंगल व मैथिली भाषा का ज्ञान प्राप्त होता है।
  • राजभक्ति,वीरता व शृंगार के वर्णन से प्राचीन संस्कृति व परिवेश का परिचय प्राप्त होता है।
  • प्राचीन ऐतिहासिक चरितो की जानकारी प्राप्त होती है।
  • काव्य शास्त्रीय, काव्य लेखन का ज्ञान भी प्राप्त होता है।
  • भक्ति कालीन कविता में, मानवीय और नैतिक मूल्यों की शिक्षा, विद्यार्थियों को सहज ही प्राप्त हो जाती है।
  • इस कविता के पठन से भारतीय पुराण- शास्त्रों के ज्ञान व भक्ति की शिक्षा विद्यार्थियों के व्यक्तित्व को एक नई दिशा प्रदान करती है।
  • यह कविता क्षमाशीलता, दया, परोपकार, सहनशीलता, प्रेम, अहिंसा, सत्यनिष्ठा,निडरता,बड़ों व गुरुओं के प्रति आदर भाव जैसे गुणों के प्रति छात्रों में आस्था उत्पन्न करती है।
  • इसकी भाषा व शिल्प दोनों काव्य लेखन प्रशिक्षा में सहायक है।
  • हिन्दी की आधुनिक कविता अपने वैज्ञानिक चिंतन की दृष्टि से महत्वपूर्ण है।
  • इस कविता के पाठन से विद्यार्थी अपने विचारों में इस चिंतन को उतार सकता है।
  • वह प्रत्येक घटना को वैज्ञानिक कसौटी पर आंक सकने की क्षमता विकसित कर सकता है।
  • आधुनिक कविता में विभिन्न दर्शन जैसे- मार्क्सवाद, अस्तित्ववाद, मनोविश्लेषणवाद, प्रगतिवाद, प्रयोगवाद,सामंतवाद, विश्वयुद्ध विभीषिका इत्यादि को समझते हुए समाज के विकास में सहायक सिद्ध हो सकेगा।
  • इस कविता में उपस्थित तत्व, व्यष्टि से समष्टि अर्थात विश्व मानवतावाद, सामाजिक समरसता के प्रति समझ विकसित कर समाज के उत्थान में सहायक बन सकेगा।
  • इस कविता में समाज व राष्ट्र के प्रत्येक वर्ग के जीवन की झांकी उसे परिपक्व युवा और व नागरिक बनने में सहायक रहेगी।
  • विद्यार्थियों के चिंतन को नवीन आयाम देने के साथ ही, स्वयं के जीवन व समाज के प्रति उसे जागरूक बनाते हुए, चिंतन को सही दिशा प्रदान करेगी।
  • सशक्त शब्द भण्डार होने पर द्विभाषी अनुवादक, वक्ता, लेखक, प्रूफ़ रीडर का कार्य।भी कुशलता पूर्वक कर सकता है।
  • पद्य काव्य के सस्वर वाचन से उसकी हिचक कम होने लगती है तथा आत्मविश्वास में भी वृद्धि होती है।
  • सभी के सामूहिक गायन से, उच्चारण में शुद्धता आती है तथा समूह भावना का विकास होता है, सद्भाव वृद्धि पाता है और मानसिक आनंद भी प्राप्त होता
  • विद्यार्थी, खड़ी बोली हिन्दी के शुद्ध साहित्यिक रूप का ज्ञान और लेखन में रुचि व कौशल का विकास कर सकते हैं।

 

एम ए -हिंदी साहित्य

स्नातकोत्तर कार्यक्रम उपादेयता

  • हिन्दी साहित्य में सेमेस्टर अधिस्नातक कार्यक्रम में निष्णात विद्यार्थियों का लोक भाषाओं तथा हिन्दी भाषा संबंधी ज्ञान समृद्ध होता है।
  • सेमेस्टर कार्यक्रम द्वारा विद्यार्थी, हिन्दी भाषा व साहित्य के विविध रूपों का अध्ययन बिना किसी अंतराल के निरंतर करते हैं… तो ज्ञान और अधिगम में क्रमबद्धता उन्हें अपने विषय में पारंगत बना देते हैं।
  • विविध कवि व काव्य अध्ययन से इतिहास, पुराणों के ज्ञान के साथ ही विभिन्न नवीन वादों, विचारधाराओं से जीवन चिंतन को दिशा मिलती है।
  • हास्य, वीर, शांत, शृंगार इत्यादि रसों की अनुभूति से विद्यार्थी मानसिक स्वास्थ्य को प्राप्त करते हैं;किसी भी समाज व राष्ट्र के विकास के लिए युवाओं का स्वस्थ दृष्टिकोण महत्वपूर्ण होता है।
  • विद्यार्थियों का भावात्मक,संवेदनात्मक, ज्ञानात्मक संतुलन  सुदृढ़ बनता है।
  • विद्यार्थी, अधिस्नातक के बाद हिन्दी विषय पर एकाधिकार प्राप्त कर आगे एम.फिल्., पीएच.डी., जैसी उपाधि व नेट, सेट पात्रता परीक्षाओं के लिए योग्यता प्राप्त कर व्याख्याता बन सकता है।

वह देश- विदेश में हिन्दी भाषा के माध्यम से,भाषा विज्ञानी, भाषाविद् ,अनुवादक, भारत व राज्य सरकारों के विभिन्न विभागों में राजभाषा अधिकारी, द्विभाषी, सिनेमा में कथा लेखक, गीत लेखक, किन्ही भी संस्थाओं में हिन्दी प्रवक्ता, प्रूफ़ रीडर, दूरदर्शन-आकाशवाणी व अन्य चेनलों पर पर वार्ताकार, उद्घोषक, समाचार वाचक, जैसे श्रेष्ठ कार्यों को चुन सकता है।

 

Do you have more questions?

Contact us

Kanoria PG Mahila Mahavidyalaya
Near Gandhi Circle, J.L.N. Marg, Jaipur (Rajasthan)- 302004

admissions@kanoriacollege.in
+91-141-2707539
Admission Helpline No.: 9057807070
(10:00 AM to 06:00 PM)

Tell us a little about yourself and we’ll help with the rest. Our convenient online application tool only takes 10 minutes to complete.

Once you’ve completed your application and connected with an admissions representative, you’re ready to create your schedule.